कोरोना वैक्‍सीन कब, कैसे और किस तरह मिलेगी? जानिए सभी जवाब


विश्वनाथ पिल्ला

देश में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) 16 जनवरी से शुरू हो रहा है. केंद्र सरकार के आदेशानुसार कोरोना वैक्सीन सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को दी जाएगी. इस बीच हर कोई ये जानना चाहता है कि वैक्सीनेशन की लिस्ट में उसका नंबर कब आएगा. किन लोगों को वैक्शीनेशन करवाना चाहिए, कोरोना वैक्सीन कितनी सुरक्षित है? अगर आपके मन में भी इसी तरह का कोई सवाल है तो हम आपके सारे सवालों का जवाब लेकर आए हैं.

[q]किसे मिलेगी सबसे पहले वैक्सीन?[/q]
[ans]देशभर में वैक्सीनेशन चरणबद्ध तरीके से होगा. शुरुआती चरण में सरकार ने कहा कि वह लगभग एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण करेगी. इसके बाद दो करोड़ फ्रंटलाइन कार्यकर्ता, पुलिस, सशस्त्र बल, नगरपालिका कार्यकर्ता, राजस्व कर्मचारियों का वैक्सनीशन किया जाएगा. तीसरे चरण में, 50 वर्ष से अधिक आयु के 27 करोड़ लोगों और डायबिटीज, उच्च हाई ब्लड प्रेशर और अंग प्रत्यारोपण के रोगियों की सह-रुग्णता वाले लोगों को वैक्सीन मिलेगी. इन सभी प्राथमिकता सूचियों में शामिल लोगों को कोविड 19 वैक्सीन देने के बाद ही बची हुई आबादी का नंबर आएगा.[/ans][q]कोविड-19 वैक्सीन लगवाने के लिए कैसे रजिस्टर करें?[/q]

[ans]कोविड-19 वैक्सीन के लिए केंद्र सरकार द्वारा जल्द ही को-विन ऐप (CoWIN App) लॉन्च किया जाएगा. लोग को-विन ऐप पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपके मोबाइल पर एक मैसेज आएगा जिसमें वैक्सीन लगाने का समय, तारीख़ और केंद्र का पूरा ब्योरा होगा.[/ans]

[q]क्या कोरोना वैक्‍सीन लेना अनिवार्य है?[/q]
[ans]केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोविड-19 का टीकाकरण ऐच्छिक होगा. हालांकि सलाह यही है कि खुद को और अपनों को बीमारी से बचाने के लिए वैक्‍सीन का पूरा शेड्यूल लिया जाए.[/ans]

[q]कोरोना वैक्सीन के लिए आयु मानदंड क्या है?[/q]

[ans]सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने कोविशिल्ड वैक्सीन को 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों पर इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है. वहीं, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को 12 साल के अधिक उम्र के लोगों को दी जाएगी. [/ans]

[q]क्या प्रेग्नेंट महिलाएं भी ले सकती हैं कोविड-19 वैक्सीन?[/q]
[ans]प्रेग्नेंट और स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को वैक्सीन नहीं दी जाएगी. [/ans]

[q]यदि कोई डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेसर, कैंसर जैसी बीमारियों की दवा ले रहा है, तो क्या वह कोविड-19 वैक्सीन ले सकता है?[/q]
[ans]हां, इनमें से एक या एक से अधिक स्वास्थ्य परिस्थितियों वाले व्यक्तियों को एक उच्च जोखिम वाली श्रेणी माना जाता है. उन्हें कोरोना वैक्सीनेशन कराने की आवश्यता है.[/ans]

[q]क्या मेरे पास वैक्सीन का विकल्प है?[/q]
[ans]वर्तमान में भारत के पास दो स्वदेशी कोरोना वैक्सीन उपलब्ध है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के कोविशिल्ड और भारत बायोटेक के कोवैक्सी. भारत में किसी भी व्यक्ति के पास वैक्सीन का कोई भी विकल्प उपलब्ध नहीं है. दोनों से कोई एक वैक्सीन आपको लेनी ही पड़ेगी.[/ans]



Source link

%d bloggers like this: