सबसे आगे की ट्राली में होंगे पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब, कुछ ट्रैक्टर दिखाएंगे करतब


नई दिल्ली. दिल्ली की सीमा पर तीन स्थानों-सिंघू, टिकरी और गाजीपुर- पर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान सोमवार को 26 जनवरी को प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड की तैयारियों को अंतिम रूप देने में व्यस्त दिखे. उन्होंने कहा कि मंगलवार को होने वाली ट्रैक्टर परेड में मुख्य आकर्षण ‘झांकी’ होंगी जिसमें सबसे आगे ट्राली में पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब होंगे.

ट्रैक्टर परेड में शामिल होने वाले तमाम वाहनों को फूलों से सजाया गया और उनके दोनों ओर सिख नेताओं जैसे शहीद बाबा दीप सिंह, बाबा बंदा सिंह बहादुर व गुरु तेग बहादुर के पोस्टर लगाए जा चुके हैं. सिंघू बार्डर पर मौजूद स्वयंसेवक जरनैल सिंह ने कहा, ‘रैली में सबसे आगे हमारा सबसे पवित्र ग्रंथ होगा. हम ‘प्रसाद’ बांटेंगे और श्रद्धालु दर्शन करेंगे. गुरु ग्रंथ साहिब वाले पवित्र वाहन के पीछे लोग पैदल चलेंगे और उनके पीछे ट्रैक्टर होंगे.’

ऑल इंडिया किसान सभा (पंजाब) के सहायक सचिव कश्मीर सिंह के मुताबिक सरकार ने तीन मार्ग प्रस्तावित किए हैं जिनपर ‘ पूरी तरह से शांतिपूर्ण परेड’ के दौरान ट्रैक्टर चलेंगे. उन्होंने कहा, ‘रैली दिखाएगी कि भारत के किसान क्या कर सकते हैं. इसमें सभी राज्यों की ‘झांकी’ होगी जो किसानों की दशा दिखाएगी.’ जय किसान आंदोलन (स्वराज अभियान) के प्रवक्ता ने बताया कि ट्रैक्टर मार्च पूर्वाह्न 11 बजकर 30 मिनट पर शुरू होने की संभावना है और इसके 10 से 12 घंटे तक चलने की उम्मीद है.

यहां पढ़ें Kisan Tractor Rally के Live Updates



Source link

%d bloggers like this: