INTERVIEW: निर्भया, राम रहीम और अब हाथरस, क्यों आरोपियों का ही केस लड़ते हैं वकील एपी सिंह | hathras – News in Hindi

INTERVIEW: निर्भया, राम रहीम और अब हाथरस, क्यों आरोपियों का ही केस लड़ते हैं वकील एपी सिंह | hathras – News in Hindi


INTERVIEW: निर्भया, राम रहीम और अब हाथरस, क्यों  आरोपियों का ही केस लड़ते हैं वकील एपी सिंह

हाथरस के चारों आरोपियों की ओर से केस लड़ रहे हैं निर्भया के आरोपियों का केस लड़ने वाले वकील एपी सिंह.

निर्भया के आरोपी (Nirbhaya accused), बाबा राम रहीम (Baba Ram Rahim) का केस लड़ चुके और अब हाथरस (Hathras) के चारों आरोपियों का केस लड़ रहे वकील एपी सिंह (Advocate AP Singh) का कहना है, ‘आरोपियों के परिजनों के अलावा अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के कुंवर मानवेंद्र और गुजरात के बांकानेर से पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. दिग्विजय सिंह ने पत्र लिखकर मुझसे इस केस को लड़ने के लिए अपील की है.’

नई दिल्‍ली. देश को झकझोर देने वाला दिल्‍ली का निर्भया कांड हो या धार्मिक विश्‍वास को दरकाने वाला बाबा राम रहीम का मामला हो या अब दलित बनाम सवर्ण कथित गैंगरेप और हत्‍या वाला हाथरस कांड हो. इन सभी में वकील एपी सिंह का नाम बहुत सामान्‍य है. इससे भी खास बात है एपी सिंह का अक्‍सर ही आरोपियों की तरफ से केस लड़ना. अभी तक के इन बड़े मामलों में एपी सिंह ने आरोपियों के पक्ष को ही कोर्ट के सामने रखा है. ऐसे में उन पर लोग सवाल भी उठा रहे हैं कि वे पीड़ि‍तों का केस क्‍यों नहीं लड़ते. साथ ही हाथरस केस में वे एक बार फिर निर्भया की वकील सीमा समृद्धि कुशवाह के सामने होंगे.

ऐसे में तमाम सवालों पर वकील एपी सिंह ने न्‍यूज18 हिन्‍दी के सामने अपना पक्ष बेबाकी से रखा है, वहीं हाथरस के आरोपियों का केस लड़ने के पीछे की वजह भी बताई है. एपी सिंह कहते हैं कि वे एक वकील हैं, सही और गलत का फैसला तो अदालत करती है लेकिन वे कोशिश करते हैं कि किसी भी बेगुनाह को सजा न मिले और गुनहगार सलाखों के पीछे पहुंचे.

हाथरस केस के आरोपियों का केस आप लड़ रहे हैं क्‍या यह सही है?

जी हां. मैं ही चारों आरोपियों का केस लड़ रहा हूं.क्‍या आपने खुद ही इनका केस लड़ने के लिए पहल की थी?

नहीं. मैंने कोई पहल नहीं की. न ही मैं किसी केस को लड़ने के लिए खुद अप्रोच करता हूं. यह मामला भी और मामलों की तरह मेरे पास आया. मुझसे लड़ने के लिए अनुरोध किया गया. मैंने पूरा केस पढ़ा और तब मैंने हां की.

कौन लाया इस मामले को आपके पास?

चारों आरोपियों के परिजनों के अलावा अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के कुंवर मानवेंद्र और गुजरात के बांकानेर से पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. दिग्विजय सिंह ने पत्र लिखकर मुझसे इस केस को लड़ने के लिए अपील की है.

आप आरोपियों का पक्ष रखेंगे, देश की भावनाएं पीड़ि‍ता से जुड़ी हैं, लोग आपका विरोध कर सकते हैं?

मुझे ऐसा नहीं लगता. जब से आरोपियों की ओर से केस लड़ने के लिए मेरा नाम आया है. मेरे पास हजारों मैसेज और फोन आ रहे हैं. लोग मुझसे कह रहे हैं कि आप ही इस केस को लड़ें.

पीड़ि‍ता की ओर से निर्भया की वकील सीमा लड़ रही हैं, एक बार फिर आप दोनों आमने-सामने होंगे?

अच्‍छी बात है सीमा कुशवाह केस लड़ रही हैं. वे मेरी छोटी बहन हैं. हम आमने-सामने नहीं बल्कि हम दोनों ही कोर्ट के सामने होंगे और अपना-अपना पक्ष रखेंगे.

आप पर आरोप है कि आप हमेशा आरोपियों की तरफ से ही केस लड़ते हैं?

आगे पढ़ें





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *